क्या चल रहा है?

फ्रंटलाइन वॉरियर्स का फैन हुआ लिवरपूल क्लब, अनोखे तरीके से कहेगा धन्यवाद

[ad_1]

लिवरपूल के पास 30 साल बाद खिताब जीतने का मौका है

लिवरपूल के पास 30 साल बाद खिताब जीतने का मौका है

लिवरपूल फुटबॉल क्लब (Liverpool Football Club) यूरोपियन क्लब है

नई दिल्ली. कोरोना वायरस (Coronavirus) से जंग में आज पूरी दुनिया एक साथ है. हर जगह इसे खत्म करने की कोशिश की जा रही है. इस जंग में सबसे ज्यादा योगदान है हमारे फ्रंटलाइन वॉरियर का, वो लोग जो इस बीमारी से आंखों में आंखे डालकर सामना कर रहे हैं. भारत में इन लोगों को धन्यवाद देने के लिए प्रधानमंत्री ने पहले घरों से थाली बजाने के लिए कहा था और फिर दीप जलाने के लिए कहा गया था. इंग्लिश प्रीमियर लीग के क्लब लिवरपूल क्लब (Liverpool Club) ने अनोखे तरीके से इन लोगों को धन्यवाद देने का फैसला किया.

300 मेडिकल दूकानों को देंगे धन्यवाद
शनिवार को लिवरपूल (Liverpool) क्लब ने ऐलान किया कि वह मेरेसाइड में लगभग 300 मेडिकल दूकानों को उनकी मेहनत और त्याग के लिए धन्यवाद देने के लिए वह उन्हें कूकी (एक तरह का बेक किया हुआ बिस्कट) देंगे. यह कूकी लिवरपूल क्लब और फाउंडेशन के स्टाफ वॉलियंटर पहुंचाएंगे. एलएफसी के फाउंडेशन डायरेक्टर मैट पैरिश ने कहा कि वह दिल से इन लोगों को धन्यवाद देना चाहता था. उन्होंने कहा, ‘यह एक छोटी सी कोशिश है उनकी तारीफ करने का जो हर रोज फ्रंटलाइन पर इस महामारी का फायदा करते हैं. अपने परिवार से दूर रहते हैं. हम उनके चेहरे पर मुसकान लाना चाहते हैं.

इस साल इंग्लिश प्रीमियर लीग की चैंपियन होगा लिवरपूलकोरोना वायरस महामारी के कारण अगर इंग्लिश प्रीमियर लीग का सीजन पूरा नहीं होता है तो लिवरपूल को विजेता घोषित किया जाएगा. कोरोना वायरस महामारी के कारण मैच के 29वें दिन लीग को स्थगित कर दिया गया था. उस समय लिवरपूल की टीम 30 साल के अपने खिताबी सूखे को समाप्त करने वाली थी.

डेली मेल में प्रकाशित रिपोर्ट के अनुसार, कोविड-19 संकट के कारण अगर सीजन की शुरुआत फिर से नहीं होती है तो लिवरपूल 19वीं बार इंग्लैंड का चैंपियन बनने का गौरव हासिल कर लेगा. यूनियन ऑफ यूरोपियन फुटबॉल एसोसिएशन (यूईएफए) ने गुरुवार को कहा कि अगर यूरोप में फुटबाल लीगें इस सीजन को पूरा नहीं कर पाती हैं तो यूईएफए चैंपियंस लीग के अगले सीजन के लिए स्थान अभी तक खेले गए मैचों में मिले अंकों के आधार पर तय होंगे.

Role Model : चलने के तरीके से कोच ने खोज लिया था पीटी उषा में भारत का भविष्‍य, उड़नपरी और सेकंड का 100वां हिस्सा






[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Recent Posts

Covid – 19

Live COVID-19 statistics for
India
Confirmed
31,411,262
Recovered
30,579,106
Deaths
420,967
Last updated: 4 minutes ago

Live Tv

Advertisement

rashifal