क्या चल रहा है?

फुटबॉल खिलाड़ियों को अब मैदान पर थूकना पड़ेगा भारी, मिलेगी यह बड़ी सजा!

[ad_1]

कोरोना वायरस महामारी के कारण तीन महीने के ब्रेक के बाद मैदान पर लौटे 35 वर्ष के स्टार फुटबॉलर क्रिस्टियानो रोनाल्डो चिर परिचित लय में नहीं दिख रहे हैं. युवेंट्स का यह स्ट्राइकर वापसी के बाद पहले दो मैचों में कोई कमाल नहीं कर सका. ब्रेक से ठीक पहले उन्होंने लगातार 14 मैचों में 19 गोल किये थे.

कोरोना वायरस महामारी के कारण तीन महीने के ब्रेक के बाद मैदान पर लौटे 35 वर्ष के स्टार फुटबॉलर क्रिस्टियानो रोनाल्डो चिर परिचित लय में नहीं दिख रहे हैं. युवेंट्स का यह स्ट्राइकर वापसी के बाद पहले दो मैचों में कोई कमाल नहीं कर सका. ब्रेक से ठीक पहले उन्होंने लगातार 14 मैचों में 19 गोल किये थे.

कोरोना वायरस (Coronavirus) के कारण दुनिया में खेल आयोजन स्थगित हो गए हैं वहीं कुछ को रद्द कर दिया गया है

नई दिल्ली. कोरोना वायरस (Coronavirus) ने लोगों के जीवन को काफी बदल दिया है. घरों में कैद लोग बाहर जाने के लिए तरस रहे हैं. वहीं इस गंभीर स्थिति ने लोगों को काफी कुछ सिखाया भी है जो इस त्रासदी के खत्म हो जाने के बाद भी उनके जहन में रहेगा. कोविड-19 (Covid-19) की इस महामारी ने खेल जगत पर भी असर डाला है. खेलों के फिर शुरू होने के बाद फैंस को काफी बदलाव देखने को मिलने वाले हैं. इसकी शुरुआत फीफा ने कर दी है. खबरों के मुताबिक फुटबॉल खेलते हुए अब खिलाड़ियों का फील्ड पर थूकना उन्हें काफी भारी पड़ने वाला है.

थूकने पर दिया जाएगा येलौ कार्ड
अंग्रेजी अखबार के मुताबिक फीफा (FIFA) की मेडिकल कमेटी ने सभी फुटबॉल लीग को मैच के दौरान मैदान पर थूंकने के लिए सख्ती करने को कहा है और साथ ही ऐसा करने वालों को कड़ी सजा देने की अपील भी की है. रिपोर्ट के मुताबिक कमेटी के सदस्य माइकल डी हूग ने कहा की फुटबॉल में जमीन पर थूकना एक आम बात है लेकिन यह सही नहीं है. उन्होंने कहा, ‘जब हम फिर से फुटबॉल की शुरुआत करेंगे तो हमें इस बात का ख्याल रखना होगा. थूकना कोई भी वायरस फैलाने का आसान तरीका है. सवाल यह भी है कि क्या यह मुमकिन है. इसका भी जवाब हमारे पास है. जो भी खिलाड़ी ऐसे करे उसे येलौ कार्ड दिया जा सकता है.’ साथ ही उन्होंने कहा कि खेलों के दुबारा शुरू होने के लिए ऐसे कदम काफी जरूरी है.

क्रिकेट में भी लागू किए गए थे कुछ नए नियमपिछले महीने इंग्लैंड (England) की प्रीमियर लीग (Premeire League) के रद्द होने से पहले खिलाड़ियों के हाथ मिलाने पर रोक लगा दी गई थी. ऐसे में हो सकता है कि यह नियम भी जल्द लागू कर दिया जाए. वहीं क्रिकेट में हाथ न मिलाने का फैसला किया गया था. ऑस्ट्रेलिया (Australia) और न्यूजीलैंड (New Zealand) के बीच खाली स्टेडियम में खेले गए वनडे मैच के दौरान इसे लागू किया गया था. इस मुकाबले में खिलाड़ियों ने एक दूसरे हाथ नहीं मिलाए थे, न ही विकेट गिरने का जश्न मनाते हुए खिलाड़ियों ने हाइ फाइव किया. खिलाड़ी अपनी कोहनी और मुठ्ठी की मदद से जश्न मनाते देखे गए थे.

एश्ले बार्टी: टेनिस की नंबर-1 खिलाड़ी जो नेटबॉल से लेकर वुमंस बिग बैश लीग तक में खेल चुकी हैं

सचिन तेंदुलकर ने कहा- मुश्किल में पृथ्वी शॉ की मदद की, मेरे दरवाजे सभी के लिए खुले






[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Recent Posts

Covid – 19

Live COVID-19 statistics for
India
Confirmed
31,726,507
Recovered
30,896,354
Deaths
425,195
Last updated: 6 minutes ago

Live Tv

Advertisement

rashifal