क्या चल रहा है?

गुस्से में दिग्‍गज खिलाड़ी ने विरोधी की छाती पर पहुंचाई ऐसी चोट, खत्‍म किया खुद का करियर

[ad_1]

जिनादिन जिदान रियाल मैड्रिड के मैनेजर भी रहे हैं

जिनादिन जिदान रियाल मैड्रिड के मैनेजर भी रहे हैं

2006 में हुए वर्ल्ड कप में जिनादिन जिदान (Zinadine Zindane) का करियर हेडबट के कारण खत्म हो गया था

नई दिल्ली. फुटबॉल एक ऐसा खेल है जिसमें खेल का मैदान कब जंग का मैदान बन जाता है पता नहीं चलता. फुटबॉल के इतिहास में कई ऐसे मौके आए जहां मैच खेल के कारण नहीं बल्कि ऐसे मौकों के लिए जाने जाते हैं जहां खिलाड़ी सीमाएं लांघ जाते हैं. फीफा वर्ल्ड कप में अपने देश का प्रतिनिधित्व करना किसी भी खिलाड़ी के लिए बड़ा मौका होता है खासकर जब आपकी टीम फाइनल में हो. साल 2006 के फीफा वर्ल्ड कप फाइनल में कुछ ऐसा हुआ जो वर्ल्ड कप के इतिहास का काला अध्याय बन गया और साथ ही फ्रांस के एक स्टार खिलाड़ी के करियर का अंत कर दिया.

वर्ल्ड कप में फ्रांस के स्टार थे जिनादिन
फ्रांस उस वर्ल्डकप में जिनादिन जिदान (Zinedine Zidane) के प्रदर्शन के दम पर फाइनल तक पहुंचा था. अंतिम 16 में स्पेन (Spain) को हराने के बाद फ्रांस का सामना ब्राजील (Brazil) से था. ब्राजील ने फ्रांस को 1998 फाइनल में मात देकर खिताब छीन लिया था. उस मैच में जिदान की फ्री किक पर थियेरा हेनरी ने फ्रांस के लिए गोल किया और टीम प्रबल दावेदार ब्राजील को हराकर सेमीफाइनल में पहुंच गई. जिजोउ की पेनल्टी ने टीम को अंतिम 4 में भी जीत दिलाई. दोनों मैचों में वे फ्रांस की जीत के हीरो रहे और अपने शानदार फॉर्म में नजर आए.

जिदान के हेडबट ने बदल दिया उनका करियरइटली के खिलाफ 2006 वर्ल्ड कप फाइनल में जिदान (Zinadine Zidane) ने टीम को उम्मीद के मुताबिक अच्छी शुरुआत दी मैच का पहला गोल किया. हालांकि इटली के लिए मार्को मातेराज्जी (Marco Materazzi) ने 19वें मिनट में बराबरी का गोल दागा. मैच पेनल्टी शूटआउट की तरफ बढ़ता दिख रहा था. टीवी कैमरे पहले उस घटना को कैद नहीं कर सके लेकिन अचानक मातेराज्जी मैदान पर गिरे हुए दिखाई दिए थे. जब रिप्ले देखा गया तो पता चला कि मातेराज्जी ने जिदान को कुछ कहा जिसके बाद जिदान ने गुस्से में सिर से उसकी छाती पर प्रहार किया.  इसके बाद जिदान को रेड कार्ड दिया गया. वह वर्ल्ड कप इटली की जीत से ज्यादा जिदान के उस हेडबट के लिए जाना जाता है.जिदान को लाल कार्ड देखना पड़ा और फ्रांस को 5-3 से हार का सामना करना पड़ा था।

मैच के बाद मर्तेजी ने बताई थी सच्चाई
मैच के बाद खबरें आईं कि इटली (Italy) के डिफेंडर ने जिदान को उनकी बहन के बारे में कुछ अपशब्‍द बोले थे. इटालियन मीडिया से बातचीत में मर्तेजी ने बताया कि मैच के दौरान थोड़ी कहासुनी होने के उन्‍होंने जिदान की जर्सी पकड़ ली थी, जिसके बाद फ्रांस के कप्‍तान ने उनसे कहा कि क्‍या वो उनकी जर्सी चाहते हैं. इसका जवाब देते हुए  मार्तेजी ने कहा कि वह उनकी जर्सी नहीं बल्कि उनकी बहन को चाहते हैं. उन्‍होंने कहा कि वर्ल्‍ड कप के बाद जिदान ने इस घटना पर दुख भी जताया था. मार्तेजी ने कहा कि वह 2006 में घटी इस घटना पर वह गर्व नहीं करते. वह कभी किसी खिलाड़ी को सलाह नहीं देंगे कि वो इस तरह का व्‍यवहार करें. 2006 का वो वर्ल्‍ड कप फाइनल जिदान (Zinedine Zidane) के करियर का बतौर खिलाड़ी आखिरी मैच था.






[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Recent Posts

Covid – 19

Live COVID-19 statistics for
India
Confirmed
33,504,534
Recovered
0
Deaths
445,385
Last updated: 7 minutes ago

Live Tv

Advertisement

rashifal