क्या चल रहा है?

दिल्ली की एक नर्स ने IPL 2020 के दौरान भारतीय खिलाड़ी से मांगी थी अंदरुनी जानकारी: रिपोर्ट

[ad_1]

इंडियन प्रीमियर लीग का 13वां सीजन (IPL 2020) इस साल सिंतबर से नवंबर के बीच यूएई में खेला गया था. आईपीएल 2020 के दौरान दिल्ली की एक नर्स ने गैरकानूनी तरीके से भारतीय खिलाड़ी से अंदरुनी जानकारी मांगी थी.

इंडियन प्रीमियर लीग का 13वां सीजन (IPL 2020) इस साल सिंतबर से नवंबर के बीच यूएई में खेला गया था. आईपीएल 2020 के दौरान दिल्ली की एक नर्स ने गैरकानूनी तरीके से भारतीय खिलाड़ी से अंदरुनी जानकारी मांगी थी.

इंडियन प्रीमियर लीग का 13वां सीजन (IPL 2020) इस साल सिंतबर से नवंबर के बीच यूएई में खेला गया था. आईपीएल 2020 के दौरान दिल्ली की एक नर्स ने गैरकानूनी तरीके से भारतीय खिलाड़ी से अंदरुनी जानकारी मांगी थी.

  • Last Updated:
    January 5, 2021, 10:38 AM IST

नई दिल्ली. इंडियन प्रीमियर लीग का 13वां सीजन (IPL 2020) इस साल सिंतबर से नवंबर के बीच यूएई में खेला गया था. आईपीएल 2020 के दौरान दिल्ली की एक नर्स ने गैरकानूनी तरीके से भारतीय खिलाड़ी से अंदरुनी जानकारी मांगी थी. इंडियन एक्सप्रेस में छपी एक खबर के मुताबिक, नई दिल्ली की एक नर्स ने डॉक्टर बनकर 30 सिंतबर को सोशल मीडिया के जरिये के भारतीय खिलाड़ी से संपर्क साधा था. यह घटना टूर्नामेंट के एकदम बीच की है. बताया जा रहा है कि इस नर्स ने मैच की जानकारी के साथ-साथ प्लेइंग इलेवन के बारे में भी पूछा था, क्योंकि वह इस मैच में सट्टा लगाना चाहती थी.

इस पर खिलाड़ी ने उससे इस तरह की जानकारी नहीं मांगने के लिए कहा और पुलिस को उसके बारे में जानकारी देने की धमकी भी दी. भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड के एंटी करप्शन यूनिट के चीफ अजीत सिंह ने इंडियन एक्सप्रेस से इस बात की पुष्टि की. उन्होंने कहा कि इस मामले की एक जांच शुरू की गई थी, लेकिन यह अब बंद हो गया है क्योंकि इस मामले में कुछ भी नहीं पाया गया था.

IND vs AUS: भारत को लगा झटका, ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट सीरीज से बाहर हुए केएल राहुल

अजीत सिंह ने कहा, ”आईपीएल के दौरान खिलाड़ी ने हमें इस बारे में रिपोर्ट कर दी थी. हम इसकी जांच कर रहे थे और अब यह मामला बंद कर दिया गया है. खिलाड़ी से संपर्क करने वाला व्यक्ति अनप्रोफेशनल था (उसका किसी सट्टेबाज या गुट के साथ कोई कनेक्सन नहीं था). और इस मामले में कोई और जानकारी भी नहीं थी.”उन्होंने आगे कहा, ”हमने इस मामले की अच्छी तरह से जांच की. आरोपी, खिलाड़ी को जानता था. जब खिलाड़ी ने हमें इस बारे में रिपोर्ट किया तो हमने सभी डिटेल्स को इकट्ठा किया. बाद में हमने उस नर्स को सवाल-जवाब के लिए लिए भी बुलाया, लेकिन उससे कुछ सुराग नहीं मिला और मामला बंद हो गया.”

रिपोर्ट में आगे कहा गया है कि क्रिकेटर और नर्स लगभग तीन साल पहले ऑनलाइन मिले थे. उन्होंने एक प्रशंसक होने का दावा किया था और कहा था कि वह दिल्ली के एक निजी अस्पताल में डॉक्टर थीं. क्रिकेटर हाल ही में उनके संपर्क में थे. खिलाड़ी ने नर्स से कोरोना वायरस के संक्रमण को लेकर सावधानी बरतने की सलाह नर्स से मांगी थी. इसके अलावा, खिलाड़ी ने कहा था कि वह उनसे व्यक्तिगत रूप से कभी नहीं मिला और केवल सोशल मीडिया पर उसके साथ बातचीत की.

NZ vs PAK: केन विलियम्सन ने 2021 का पहला दोहरा शतक ठोका, स्मिथ-रूट-पुजारा-गेल के रिकॉर्ड टूटे

बीसीसीआई के एक सूत्र ने इंडियन एक्सप्रेस से कहा, ”खिलाड़ी ने बताया कि वह नहीं जानता कि वह नर्स कहां रहती है और कहां काम करती है. ऑनलाइन बातचीत के दौरान नर्स ने खिलाड़ी से कहा था कि वह सट्टा लगाना चाहती है. इसलिए वह मैच और प्लेइंग इलेवन के बारे में जानना चाहती है.”

यह घटना लगभग एक महीने बाद सामने आई, जब सट्टेबाजी का एक और तरीका सामने आया. इस बार एक खिलाड़ी द्वारा, जो किसी परिचित व्यक्ति द्वारा जानकारी के लिए संपर्क किया गया था. खिलाड़ी ने इसे संदिग्ध पाया और टीम प्रबंधन को इसकी सूचना दी थी.






[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Recent Posts

Covid – 19

Live COVID-19 statistics for
India
Confirmed
33,448,163
Recovered
0
Deaths
444,838
Last updated: 9 minutes ago

Live Tv

Advertisement

rashifal