क्या चल रहा है?

भारतीय टीम के कोच चाहते हैं विदेशों में जाकर खेलें स्टार खिलाड़ी, कहा-टीम को जरूरत है

[ad_1]

संदेश झिंगन और अनुरुद्ध थापा भारतीय टीम का अहम हिस्सा हैं

संदेश झिंगन और अनुरुद्ध थापा भारतीय टीम का अहम हिस्सा हैं

झिंगन (Sandesh Jhingan) भारतीय फुटबॉल में बड़े खिलाड़ियों में शामिल है जबकि 22 साल के थापा (Anirudh Thapa) ने अपने खेल से प्रभावित किया है

नई दिल्ली. भारतीय फुटबॉल टीम के सहायक कोच वेंकटेश को लगता है कि डिफेंडर संदेश झिंगन (Sandesh Jhingan) और मिडफील्डर अनिरूद्ध थापा (Annirudh Thapa) के लिये अंतरराष्ट्रीय क्लबों में खेलने के लिये यह सही समय है. इस समय झिंगन भारतीय फुटबॉल में बड़े खिलाड़ियों में शामिल है जबकि 22 साल के थापा ने भी राष्ट्रीय टीम और अपने क्लब चेन्नइयिन एफसी (Chennayin FC) की ओर से खेलते हुए अपने खेल से प्रभावित किया है.

झिंगन और अनिरुद्ध थाना को जाना चाहिए विदेश
वेंकटेश ने अखिल भारतीय फुटबॉल महासंघ (एआईएफएफ) के इंस्टाग्राम लाइव सत्र में कहा, ‘मुझे लगता है कि यह समय उसके लिये भारत के बाहर खेलने के लिये सही है.यह हैरानी की बात है कि वह अब भी भारत में खेल रहा है.संदेश ने अभी तक जो भी हासिल किया है, वह अपनी कड़ी मेहनत की वजह से किया है.’

उन्होंने कहा, ‘संदेश ही नहीं बल्कि थापा में भी भारत के बाहर खेलने की काबिलियत है.दोनों काफी शानदार खिलाड़ी हैं.’ पूर्व कप्तान वेंकटेश को लगता है कि विदेशी लीगों में अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ियों के साथ ड्रेसिंग रूम साझा करने से भारतीय टीम को सुधार करने में मदद मिलेगी.

विदेशी क्लबों में खेलना भारतीय टीम के लिए है अच्छा
उन्होंने कहा, ‘हमारे यहां काफी खिलाड़ी प्रतिभाशाली हैं.जब लोग मुझसे पूछते हैं कि हम भारतीय टीम को बेहतर कैसे बना सकते हैं तो मैं कहता हूं कि ज्यादा खिलाड़ियों को भारत के बाहर क्लबों में खेलना चाहिए.संदेश के लिये मुझे लगता कि यह समय सही है.’

वेंकटेश ने कहा, ‘भारत के बाहर खेलने के लिये मेरा मतलब यूरोपीय लीग ही नहीं है.मैं उम्मीद करता हूं आठ नौ खिलाड़ी बाहर जाकर जे-लीग, संयुक्त अरब अमीरात में लीग, के-लीग या फिर अन्य किसी लीग में खेलें.’

सुनील छेत्री ने महिला खिलाड़ियों के लिए काम करने को कहा
भारत के शीर्ष फुटबॉलर सुनील छेत्री ने राष्ट्रीय महिला टीम की खिलाड़ियों को देश में 2022 में होने वाले एशियाई कप के लिये तैयारियों के दौरान अपने खेल के हर छोटे पहलू पर गौर करने के लिये कहा है. एशियाई फुटबॉल परिसंघ (एएफसी) ने पिछले महीने पुष्टि की कि भारत 2022 में महिलाओं की महाद्वीपीय प्रतियोगिता की मेजबानी करेगा। इसकी तिथियों और मैच स्थलों की अभी घोषणा नहीं की गयी है.

छेत्री ने अखिल भारतीय फुटबॉल महासंघ (एआईएफएफ) की विज्ञप्ति में कहा, ‘यह शानदार अवसर है कि वे (भारतीय महिला खिलाड़ियों को) एशिया की शीर्ष टीमों के खिलाफ इस तरह के उच्च स्तर के टूर्नामेंट में खेलेंगी. आप इस तरह के स्तर पर खेलना चाहते हो.’






[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Recent Posts

Covid – 19

Live COVID-19 statistics for
India
Confirmed
33,504,534
Recovered
0
Deaths
445,385
Last updated: 5 minutes ago

Live Tv

Advertisement

rashifal