क्या चल रहा है?

अंकिता रैना का कमाल, दुबई में जीता आईटीएफ युगल खिताब

[ad_1]

अंकिता रैना औ कैटरीन गोर्गोद्जे की जोड़ी ने  स्पेनिश जोड़ी पर 6-4 3-6 10-6 से जीत हासिल की (फोटो क्रेडिट: अंकिता रैना ट्विटर)

अंकिता रैना औ कैटरीन गोर्गोद्जे की जोड़ी ने स्पेनिश जोड़ी पर 6-4 3-6 10-6 से जीत हासिल की (फोटो क्रेडिट: अंकिता रैना ट्विटर)

कोविड-19 महामारी से प्रभावित 2020 सत्र में यह अंकिता रैना (Ankita Raina) का तीसरा युगल खिताब है

  • News18Hindi

  • Last Updated:
    December 13, 2020, 7:54 PM IST

दुबई. भारत की शीर्ष टेनिस खिलाड़ी अंकिता रैना (Ankita Raina) ने यहां कैटरीन गोर्गोद्जे के साथ मिलकर अल हबटूर ट्रॉफी अपने नाम कर ली, जो उनका कोविड-19 महामारी से प्रभावित 2020 सत्र में तीसरा युगल खिताब है. भारत और जार्जिया की गैर वरीयता प्राप्त जोड़ी ने शनिवार को 1 लाख डॉलर पुरस्कार राशि के हार्ड कोर्ट टूर्नामेंट के फाइनल में स्पेन की अलियोना बोलसोवा जादोइनोव और स्लोवाकिया की काजा जुवान की जोड़ी पर 6-4, 3-6, 10-6 से जीत हासिल की.

अंकिता ने कहा कि एकल सर्किट की सफलता की तुलना नहीं की जा सकती, लेकिन युगल ड्रॉ की अहमियत भी कम नहीं है. उन्होंने पीटीआई-भाषा से कहा कि युगल से मुझे हमेशा एकल में मदद मिली है। मैंने करियर में युगल में अच्छा करने के बाद हमेशा ही एकल में अच्छा किया है. आपको अच्छे खिलाड़ियों के साथ अभ्यास करने और खेलने का मौका मिलता है. अंकिता का यह सत्र का चौथा युगल फाइनल था, लेकिन यह कैलेंडर की सबसे बड़ी ट्रॉफी थी, क्योंकि इससे पहले उन्होंने जो दो खिताब जीते थे वो 25 हजार डॉलर स्तर के थे.

फरवरी में किया तीन फाइनल में प्रवेश
इस साल फरवरी में अंकिता ने तीन फाइनल में प्रवेश किया, जिसमें से उन्होंने बिबियाने शूफ्स के साथ थाईलैंड के नोंथाबुरी में लगातार खिताब जीते थे और जोधपुर में हमवतन स्नेहल माने के साथ उप विजेता रही थीं. 27 वर्षीय खिलाड़ी ने कहा कि लंबे ब्रेक के बाद सर्किट में वापसी करना राहत देने वाला है. उन्होंने कहा कि यह सचमुच अच्छा है कि मैं फिर से यात्रा कर पा रही हूं. मैं घर पर शारीरिक और मानसिक ट्रेनिंग कर रही थी. यूरोप में सब चीजें खुल गई थी और उनके खिलाड़ियों ने दो महीने पहले ही तैयारियां शुरू कर दी थीं.यह भी पढ़ें :

साउथ अफ्रीका के स्‍टार खिलाड़ी की कार दुर्घटना में मौत, जलती गाड़ी का वीडियो हुआ Viral

पेरिस ओलंपिक 2024 में शामिल हुआ ब्रेकडांस, युवा दर्शकों को लुभाने लिए IOC ने लिया फैसला

पिछले तीन महीनों में अंकिता को यूएस सर्किट पर खेलने का मौका मिला. उन्होंने कहा कि मैं ज्यादातर हार्ड कोर्ट पर खेली हूं और इस बार मुझे अमेरिका में काफी खेलने का मौका मिला. शुक्र है कि मेरे पास कोच हेमंत बेंद्रे के मित्र शिरीष देशापांडे मदद के लिए मौजूद थे. वह वहां काफी समय से कोच हैं. कोई आपके मैच देखे और फीडबैक दे तो यह काफी अच्छा है.



[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Recent Posts

Covid – 19

Live COVID-19 statistics for
India
Confirmed
29,823,546
Recovered
28,678,390
Deaths
385,137
Last updated: 4 seconds ago

Live Tv

Advertisement

rashifal