क्या चल रहा है?

पृथ्वी शॉ ओपनिंग करने लायक नहीं, सुनील गावस्कर बता चुके हैं खराब मानसिकता वाला खिलाड़ी!

[ad_1]

India vs Australia: पृथ्वी शॉ की तकनीक टेस्ट क्रिकेट लायक नहीं! (PHOTO-पृथ्वी शॉ इंस्टाग्राम)

India vs Australia: पृथ्वी शॉ की तकनीक टेस्ट क्रिकेट लायक नहीं! (PHOTO-पृथ्वी शॉ इंस्टाग्राम)

पहले टेस्ट में बिना खाता खोले लौट गए पृथ्वी शॉ (Prithvi Shaw), लगातार खराब प्रदर्शन करते रहे तो टीम इंडिया से छुट्टी तय समझिए

  • News18Hindi

  • Last Updated:
    December 17, 2020, 12:08 PM IST

नई दिल्ली. टेस्ट मैच में किसी बल्लेबाज के लिए सबसे अहम चीज होती है उसका डिफेंस. अगर आपका डिफेंस सही नहीं है तो आप क्रीज पर नहीं टिक पाएंगे और गेंदबाज उसका फायदा उठाएंगे. कुछ ऐसा ही एडिलेड टेस्ट की पहली पारी में पृथ्वी शॉ (Prithvi Shaw) के पास हुआ, जिनके कमजोर डिफेंस का ऑस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाज मिचेल स्टार्क ने फायदा उठाया और उन्हें टेस्ट मैच की दूसरी ही गेंद पर शानदार इनस्विंग फेंक उन्हें पैवेलियन की राह दिखा दी. पृथ्वी शॉ से अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद थी क्योंकि उन्हें घरेलू क्रिकेट में बेहद ही प्रतिभावान खिलाड़ी माना जाता है और साथ ही वो टीम इंडिया का भविष्य भी हैं लेकिन पिछले कुछ मैचों से वो नाकाम रहे हैं और उनकी इस नाकामी की वजह उनकी खराब तकनीक बताई जा रही है.

टेस्ट ओपनिंग करने लायक नहीं है शॉ!
टेस्ट मैचों में ओपनिंग करना सबसे मुश्किल काम होता है. नई गेंद स्विंग होती है उसमें ज्यादा उछाल होता है. और पिच अगर ऑस्ट्रेलिया की हो और गेंदबाज मिचेल स्टार्क जैसा प्रतिभावान हो तो क्या ही कहने. एडिलेड टेस्ट की पहली पारी में स्टार्क की इनस्विंग शॉ के स्टंप्स ले उड़ी. शॉ के आउट होने के बाद एक बार फिर उनकी तकनीक की कलई खुल गई. दरअसल पृथ्वी शॉ आक्रामक अंदाज में खेलते हैं और उन्हें अंदर आती गेंद पर बहुत तकलीफ होती है. शॉ के पास डिफेंस नहीं है, जिसका जिक्र सुनील गावस्कर भी कर चुके हैं.

IND VS AUS: समझा था सचिन-सहवाग और लारा, लेकिन पृथ्वी शॉ तो शाहिद अफरीदी निकले !सुनील गावस्कर उठा चुके हैं सवाल

बता दें एडिलेड टेस्ट शुरू होने से पहले सुनील गावस्कर ने अपनी प्लेइंग इलेवन में पृथ्वी शॉ को शामिल नहीं किया था. दरअसल सुनील गावस्कर ने शॉ की मानसिकता पर सवाल खड़े किये थे. आईपीएल के दौरान शॉ ने कई खराब शॉट खेलकर अपने विकेट गंवाए थे जिससे गावस्कर बेहद नाराज हुए थे. शॉ पिछले कुछ वक्त से काफी खराब फॉर्म में हैं. न्यूजीलैंड टेस्ट सीरीज में शॉ ने 24.50 की औसत से 98 रन बनाए थे. वनडे सीरीज में उनके बल्ले से 3 मैच में सिर्फ 84 रन निकले. इसके बाद आईपीएल 2020 में भी शॉ ने 13 मैचों में महज 17.53 की औसत से 228 रन बनाए. इतने खराब प्रदर्शन के बावजूद शॉ को ऑस्ट्रेलिया दौरे पर पहले टेस्ट में मौका दिया और वो उसमें भी फेल रहे.



[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Recent Posts

Covid – 19

Live COVID-19 statistics for
India
Confirmed
31,726,507
Recovered
30,896,354
Deaths
425,195
Last updated: 9 minutes ago

Live Tv

Advertisement

rashifal